शिर्डी के साँई बाबा जी की समाधी और बूटी वाड़ा मंदिर में दर्शनों एंव आरतियों का समय....

"ॐ श्री साँई राम जी
समाधी मंदिर के रोज़ाना के कार्यक्रम

मंदिर के कपाट खुलने का समय प्रात: 4:00 बजे

कांकड़ आरती प्रात: 4:30 बजे

मंगल स्नान प्रात: 5:00 बजे
छोटी आरती प्रात: 5:40 बजे

दर्शन प्रारम्भ प्रात: 6:00 बजे
अभिषेक प्रात: 9:00 बजे
मध्यान आरती दोपहर: 12:00 बजे
धूप आरती साँयकाल: 7:00 बजे
शेज आरती रात्री काल: 10:30 बजे

************************************

निर्देशित आरतियों के समय से आधा घंटा पह्ले से ले कर आधा घंटा बाद तक दर्शनों की कतारे रोक ली जाती है। यदि आप दर्शनों के लिये जा रहे है तो इन समयों को ध्यान में रखें।

************************************

Saturday, 7 November 2015

साई साई देवा साई |

ॐ सांई राम



साई साई बाबा साई |
साई शक्ती बाबा साई ||
साई भक्ती बाबा साई |
साई जीवन बाबा साई ||
साई मुक्ती बाबा साई |
साई दर्पण बाबा साई ||
साई अर्पण बाबा साई ||
साई सुमिरन बाबा साई ||
साई चिंतन बाबा साई |
साई मंथन बाबा साई ||
साई तनमन बाबा साई |
साई सत्यम बाबा साई |
साई शिवम बाबा साई |
साई सुंदरम्‌ बाबा साई ||
साई साई बाबा साई |
साई साई सत्य साई ||
साई साई शक्ती साई |
साई साई बाबा साई ||
साई साई राम साई |
साई साई देवा साई |

Friday, 6 November 2015

सद्गुरू सांई नमो नमः ...

ॐ सांई राम




ॐ सांई नमो नमः ॥
शिर्डी निवासी नमो नमः ॥
करूणा मूर्ति नमो नमः ॥
सद्गुरू सांई नमो नमः ॥


जीवन की प्रभु सांझ भई है,
अब तो शरण में ले लो !
जगत के स्वामी मेरे प्रभुवर,
अपने चरन में ले लो!!
इस देही के मालिक तुम हो,
तुमको सदा भुलाया !
भरी जवानी मोल न जाना,
सदा तुम्हे बिसराया !!
तेरे चरन ही मान सरोवार,
अपने तरन में में ले लो !!!!
छोड़ के कंचन पाकर पीतल,
अंग ही उसे लगाया !!
मृगतृष्णा की पयास में भटका,
मन मेरा भरमाया !!
‘दास नारायण’ भिक्षा मांगे,
अपनी धरण में ले लो !!!!
जीवन की प्रभु सांझ भई है,
अब तो शरण में ले लो !
ॐ सांई नमो नमः ॥
शिर्डी निवासी नमो नमः ॥
करूणा मूर्ति नमो नमः ॥
सद्गुरू सांई नमो नमः ॥

Thursday, 5 November 2015

श्री साई सच्चरित्र - अध्याय 6

ॐ सांई राम



आप सभी को शिर्डी के साईं बाबा ग्रुप की और से साईं-वार की हार्दिक शुभ कामनाएं |
हम प्रत्येक साईं-वार के दिन आप के समक्ष बाबा जी की जीवनी पर आधारित श्री साईं सच्चित्र का एक अध्याय प्रस्तुत करने के लिए श्री साईं जी से अनुमति चाहते है |
हमें आशा है की हमारा यह कदम घर घर तक श्री साईं सच्चित्र का सन्देश पंहुचा कर हमें सुख और शान्ति का अनुभव करवाएगा| किसी भी प्रकार की त्रुटी के लिए हम सर्वप्रथम श्री साईं चरणों में क्षमा याचना करते है|


श्री साई सच्चरित्र - अध्याय 6
---------------------------------

रामनवमी उत्सव व मसजिद का जीर्णोदृार, गुरु के कर-स्पर्श की महिमा, रामनवमी—उत्सव, उर्स की प्राथमिक अवस्था ओर रुपान्तर एवम मसजिद का जीर्णोदृार
---------------------------------



Wednesday, 4 November 2015

हम सब साईं के रंग में झूमें

ॐ सांई राम



दुखी दिलो का दाता साईं
साईं रंग में रंगते सब बहिन भाई
हम सब साईं के रंग में झूमें
साईं हमारे रंग में झूमें
जय जय साईं दाता हमारा
...मैं हूँ एक भगत तुम्हारा


हर नज़र में नूर तेरा है ,
हर दिल में सुरूर तेरा है,
गर मैं ना समझ पाऊं
तो ये कुसूर मेरा है....


कैसे आऊं मै शिर्डी में बाबा
मुझको अब तुम ही बतला दो
कोई तो रास्ता अब निकालो
जो जल्दी से तेरे दर पे लाये
बहुत तरसी है आंखे ये अब तक
कब देखेंगी ये वो नजारा
जब मुझको भी जन्नत के दर्शन
तेरी शिर्डी में जा कर होंगे
मैंने हर पल तुझको ही चाहा
फिर क्यूँ न सुना तुमने बाबा
मिलने को तड़पते ही रहना है
खबर तो तुम्हे भी ये होगी
कोई रोता है तुम्हे याद कर के
तुम तो नरम दिल हो बाबा
फिर कैसे जुदाई तुम सह गए
साईं भक्त ये अरदास करें
हाथ जोड़ के साईं चरणों में
कैसे आऊं मै शिर्डी में बाबा
मुझको अब तुम ही बतला दो साईं नाथ मेरे !!



Tuesday, 3 November 2015

सब की तकदीर है तू साईं..

ॐ सांई राम




साईं जी करते सदा
सब भक्तों पर उपकार...
कर लो बाबा जी अब
मेरी विनती को स्वीकार...
झूल रही मेरी भी किश्ती
इस सागर के मंझधार...
साईं जी आप करते हो
नित दिन नए चमत्कार...
दे दो मुझ को अपनी भक्ति
और शक्ति का उपहार...
कृपा कर दो साईं मुझ पर
दे दो मुझे आधार...
ले कर आशीर्वाद आपका
मैं कर जाऊं इस भव सागर को पार...
बादशाह भी तु है
फ़कीर भी तु है
साधू भी तु है
और पीर भी तु है
कोई मिटा न सके जिसे
हाथो की वो लकीर है तू
तू समाया है सब में साईं
सब की तकदीर है तू...



Monday, 2 November 2015

साईं नाम को हृदय में धर ले

ॐ सांई राम




सुध तन मन की भूल जाऊं,
कभी होश में न आंऊ
तेरे धाम पहुचँ जाऊं,
या किसी के काम आंऊ...
शुभ काम पाठ पूजा,
गुणगान करते करते
हो जाए बंद आँखे मेरी,
तेरा ध्यान करते करते...


साईं नाम को हृदय में धर ले
राह मुक्ति की निशिचित कर ले
वो त्रिकालदर्शी सब जाने
जाने न कोई भी बन्दा
और न ही संसार
बस......,
तू अपना कर्म करता चला जा
साईं नाम का श्रवण करता चला जा


Sunday, 1 November 2015

ऐसी आज दुआ दे बाबा ||


ॐ सांई राम







शिर्डी के साईं बाबा की
दया हम पर रहे सदा,
नमन साईं नमन साईं
नमन साईं तुझे नमन,
साईं तेरे द्वार पर
पावन हो गया आज,
सब का मंगल तू करे
मेरी भी रखियो लाज !
ऐसी आज दुआ दे बाबा
ऐसी आज दुआ दे बाबा,
तुझ में ही बन जाऊं मैं
भाव सागर के सुख में दुःख में,
तुझे कभी ना बिस्राऊ मैं
ऐसी आज दुआ दे बाबा
तुझमें ही बन जाऊं मैं
ऐसी आज दुआ दे बाबा ||





For Donation

For donation of Fund/ Food/ Clothes (New/ Used), for needy people specially leprosy patients' society and for the marriage of orphan girls, as they are totally depended on us.

For Donations, Our bank Details are as follows :

A/c - Title -Shirdi Ke Sai Baba Group

A/c. No - 200003513754 / IFSC - INDB0000036

IndusInd Bank Ltd, N - 10 / 11, Sec - 18, Noida - 201301,

Gautam Budh Nagar, Uttar Pradesh. INDIA.