शिर्डी के साँई बाबा जी की समाधी और बूटी वाड़ा मंदिर में दर्शनों एंव आरतियों का समय....

"ॐ श्री साँई राम जी
समाधी मंदिर के रोज़ाना के कार्यक्रम

मंदिर के कपाट खुलने का समय प्रात: 4:00 बजे

कांकड़ आरती प्रात: 4:30 बजे

मंगल स्नान प्रात: 5:00 बजे
छोटी आरती प्रात: 5:40 बजे

दर्शन प्रारम्भ प्रात: 6:00 बजे
अभिषेक प्रात: 9:00 बजे
मध्यान आरती दोपहर: 12:00 बजे
धूप आरती साँयकाल: 7:00 बजे
शेज आरती रात्री काल: 10:30 बजे

************************************

निर्देशित आरतियों के समय से आधा घंटा पह्ले से ले कर आधा घंटा बाद तक दर्शनों की कतारे रोक ली जाती है। यदि आप दर्शनों के लिये जा रहे है तो इन समयों को ध्यान में रखें।

************************************

Saturday, 17 September 2016

साईं भक्तों के मुख से सुनी बहुत बड़ाई है

ॐ सांई राम


साईं  भक्तों  के  मुख  से  सुनी  बहुत  बड़ाई  है,
मैंने  भी  साईं  तेरे  दर  पे  आस  की  ज्योत  जलाई  है,

सब  कहते  हैं  साईं  दर  से  खाली  न  कोई  आया  है,
भर  दी  झोली  साईं  ने  जिसने  दामन  फैलाया  है,
दया  दृष्टि  दिखलाओ  साईं, मेरी  बारी  अब  आई  है,
साईं  भक्तों  के  मुख  से  सुनी  बहुत  बड़ाई  है,

साईं  मेरे  जीवन  में  जब  उलझन  बढ़  जाती  है,
दुखी  मन  हो  जाता  है  और  बात  समझ  नहीं  आती  है,
जो  भी  आया  दर  पे  साईं  तूने  बिगड़ी  बनाई  है,
साईं  भक्तों  के  मुख  से  सुनी  बहुत  बड़ाई  है,

ऐसे  कर्म  करवाना  साईं, मुझको  न  शर्माना  पड़े,
मोक्ष  दिला  दो  मेरे  साईं, जग  में  फिर  न  आना  पडे,
मुक्त  हुआ  है   वो  ही, जिसने  साईं  चरण  शरणाई  है,
साईं  भक्तों  के  मुख  से  सुनी  बहुत  बड़ाई  है,,

सबका  पालन  करने  वाले, पालनहार  मेरे  साईं,
मुझको  भी  चरणों  में  रखलो, राखनहार  मेरे  साईं,
साईं  मुझे  सहारा  दे  दो, और  न  कोई  सही  है,
साईं  भक्तों  के  मुख  से  सुनी  बहुत  बड़ाई  है,

Kindly Provide Food & clean drinking Water to Birds & Other Animals,
This is also a kind of SEWA.

Friday, 16 September 2016

साईं दर्श को मेरे नैन तरसे

ॐ सांई राम


साईं  दर्श  को  मेरे  नैन  तरसे 
दया  रुपी  मेघा  जाने  कब  बरसे,
कभी  तो  आओ  साईं  मेरे  घर  में,
साईं  दर्श  को  मेरे  नैन  तरसे,

साईं  ने  जीवन  संवारा  है,
साईं  ही  तो  बस  एक  सहारा  है 
जग  तो  झूठा  सपना  है
सच्चा  साईं  हमारा  है,
खाली  न  गया  कोई  साईं  के  दर  से,
साईं  दर्श  को  मेरे  नैन  तरसे,

साईं  से  प्रीत  लगनी  है, साईं  की  बड़ी  मेहरबानी  है,
जब  जब  विपदा  आई  है, साईं  बने  सहाई  है,
रहना  है  अब  साईं  का  बनके,
साईं  दर्श  को  मेरे  नैन  तरसे,

मन  में  साईं  जी  बस  जाये, चरण  शरण  हमें  मिल  जाये,
जीवन  में  शुभ  दिन  आये, दूर  कभी  न  साईं  जाये,
मिट  जायेंगे  पाप  मेरे  सर  से,
साईं  दर्श  को  मेरे  नैन  तरसे,

मन  में  साईं  की  चाह  हो, साईं  चरणों  तक  राह  हो,
साईं  मेरे  में  साईं  की, जग  की  न  मुझे  परवाह  हो,
झुक  गया  सर, साईं  तेरे  सजदे,
साईं  दर्श  को  मेरे  नैन  तरसे,

Kindly Provide Food & clean drinking Water to Birds & Other Animals,
This is also a kind of SEWA.

Thursday, 15 September 2016

श्री साई सच्चरित्र - अध्याय 3

ॐ सांई राम



आप सभी को शिर्डी के साईं बाबा ग्रुप की ओर से साईं-वार की हार्दिक शुभ कामनाएं |
हम प्रत्येक साईं-वार के दिन आप के समक्ष बाबा जी की जीवनी पर आधारित श्री साईं सच्चित्र का एक अध्याय प्रस्तुत करने के लिए श्री साईं जी से अनुमति चाहते है |
हमें आशा है की हमारा यह कदम घर घर तक श्री साईं सच्चित्र का सन्देश पंहुचा कर हमें सुख और शान्ति का अनुभव करवाएगा| किसी भी प्रकार की त्रुटी के लिए हम सर्वप्रथम श्री साईं चरणों में क्षमा याचना करते है|


श्री साई सच्चरित्र - अध्याय 3
---------------------------------
श्री साईंबाबा की स्वीकृति, आज्ञा और प्रतीज्ञा, भक्तों को कार्य समर्पण, बाबा की लीलाएँ ज्योतिस्तंभ स्वरुप, मातृप्रेम–रोहिला की कथा, उनके मधुर अमृतोपदेश ।
--------------------------------


श्री साईंबाबा की स्वीकृति और वचन देना
----------------------------------------------


Wednesday, 14 September 2016

मस्ती में रंगे मस्ताने हो गए

ॐ सांई राम



मस्ती में रंगे मस्ताने हो गए,
साईं तेरे नाम के दीवाने हो गए

भक्ति में रंगे परवाने हो गए,
साईं तेरे नाम के दीवाने हो गए
तेरे बिना साईं दिल लगता नहीं,
दिल का चिराग साईं जगता नहीं
लबों पे तेरे ही अफसाने हो गए,
साईं तेरे नाम के दीवाने हो गए
सारे ही असीं तेरे बच्चे हाँ साईं,
अक्ल दे थोड़े थोड़े कच्चे हाँ साईं
चरणों मैं तेरे ही ठिकाने हो गए,
साईं तेरे नाम के दीवाने हो गए ...

Kindly Provide Food & clean drinking Water to Birds & Other Animals,
This is also a kind of SEWA.

Tuesday, 13 September 2016

मेरे साईं का प्रेम निराला है

ॐ सांई राम


मेरे साईं का प्रेम निराला है,
साईं भक्तों का रखवाला है !


साईं दर्शन के है पावन क्षण,
जिसके लिए तरसे मेरा मन,
मैं सोच के आई साईं शरण तेरी,
साईं दर्श दिखाने वाला है,

मेरे साईं का प्रेम निराला है!

मेरा साईं मस्जिद में रहता है,
पानी से दीप जलाता है,
हर रात दिवाली मनाता है,
साईं से ही जग में है उजाला,

मेरे साईं का प्रेम निराला है!

जो शरण साईं की आता है,
भाव सागर तर जाता है,
उस का जन्म मरण मिट जाता है,
साईं मुक्ति दिलाने वाला है,

मेरे साईं का प्रेम निराला है!

ये दास तेरे गुण गाते है,
चरणों में शीश झुकाते है,
तू सर्व सुखों का दाता है,
साईं बिगड़ी बनाने वाला है,

मेरे साईं का प्रेम निराला है!

जिस ने मेरा दर्द मिटाया है,
मेरा सोया भाग्य जगाया है,
सुख की छवि में बताया है,
वो मेरा साईं शिर्डी वाला है,

मेरे साईं का प्रेम निराला है,
साईं भक्तों का रखवाला है !
Kindly Provide Food & clean drinking Water to Birds & Other Animals,
This is also a kind of SEWA.

Monday, 12 September 2016

कर लो अब तैयारियां, तुम भी शिर्डी जाने की

ॐ सांई राम



आती  है  आवाज़  साईं  की, देखलो  हमें  बुलाने  की,
कर  लो  अब  तैयारियां, तुम  भी  शिर्डी  जाने  की


छाया हुआ था घर में अँधेरा, और काली रात थी,
चारों ओर दुखों का घेरा, सुख की न कोई बात थी,
ठान ली अपने मन में मैंने, अपने साईं को मनाने की,


आती है आवाज़ साईं की, देखलो हमें बुलाने की,
कर लो अब तैयारियां, तुम भी शिर्डी जाने की,

बाबा  की  दया  तो  देखो, मुझको  सब  कुछ  मिल  गया,
मुरझाया  था  मन  का  फूल, पलभर  में  ही  खिल  गया,
आ  गई  है  अब  तो  घड़ी, चरणों  में  फूल  चढाने  की,

आती  है  आवाज़  साईं  की, देखलो  हमें  बुलाने  की,
कर  लो  अब  तैयारियां, तुम  भी  शिर्डी  जाने  की,

सारी  मुरादें  पूरी  हुई, खुशियाँ  घर  में  छाई  हैं,
तेरा  बड़ा  उपकार  है  साईं, तूने  मेहर  बरसाई   है,
उठ  रही  है  मन  में  उमंग, चरणों  में  झुक  जाने  की,

आती  है  आवाज़  साईं  की, देखलो  हमें  बुलाने  की,
कर  लो  अब  तैयारियां, तुम  भी  शिर्डी  जाने  की,

दर्शन  पाना  है  तो  चलो, तुम  भी  शिर्डी  साथ  मेरे,
मुझको  दिया  है  तुमको  भी  देंगे, दयासिन्धु   दीनानाथ  मेरे,
अर्पित  होना  है  चरणों  में, बात  नहीं  घबराने  की,

आती  है  आवाज़  साईं  की, देखलो  हमें  बुलाने  की,
कर  लो  अब  तैयारियां, तुम  भी  शिर्डी  जाने  की

Kindly Provide Food & clean drinking Water to Birds & Other Animals,
This is also a kind of SEWA.

Sunday, 11 September 2016

दो अक्षर लिखना चाहती हूँ

ॐ सांई राम



दो अक्षर लिखना चाहती हूँ, साई में तेरे प्यार में,
ये अक्षर शामिल कर लेना, भक्तो अपनी पुकार में !

साईं मेरे है दयालु, दीनबंधु और दीनानाथ,
जिसका कोई नहीं होता, साईं रखते सिर पर हाथ,
ज्ञान का दीप जलाते साईं, जीवन के अंधकार में,
दो अक्षर लिखना चाहती हूँ, साई में तेरे प्यार में !

साईं दर पर आकर जो, चरणों में शीश झुकाते है,
आशीष साईं का मिलता है, और दुःख सारे मिट जाते है,
साईं ने खाली ना जाने दिया, जो आ गया दरबार में,
दो अक्षर लिखना चाहती हूँ, साई में तेरे प्यार में !

पापी हो फिर भी आ जाना, साईं का दिल तो बहुत बड़ा,
प्यार से उसको देखा साईं ने, जो भी दर पर आन खड़ा,
चरणों में है इतना सुख, जो कही नहीं संसार में,
दो अक्षर लिखना चाहती हूँ, साई में तेरे प्यार में !

साईं गुरु गोबिंद नानक, अल्लाह साईं सोयम ईसा,
साईं बुध पैगम्बर है, दिगम्बर है साईं जगदीशा,
सब देवो के दर्शन हो गाये, साईं के अवतार में,
दो अक्षर लिखना चाहती हूँ, साई में तेरे प्यार में
Kindly Provide Food & clean drinking Water to Birds & Other Animals,
This is also a kind of SEWA.

For Donation

For donation of Fund/ Food/ Clothes (New/ Used), for needy people specially leprosy patients' society and for the marriage of orphan girls, as they are totally depended on us.

For Donations, Our bank Details are as follows :

A/c - Title -Shirdi Ke Sai Baba Group

A/c. No - 200003513754 / IFSC - INDB0000036

IndusInd Bank Ltd, N - 10 / 11, Sec - 18, Noida - 201301,

Gautam Budh Nagar, Uttar Pradesh. INDIA.