शिर्डी के साँई बाबा जी की समाधी और बूटी वाड़ा मंदिर में दर्शनों एंव आरतियों का समय....

"ॐ श्री साँई राम जी
समाधी मंदिर के रोज़ाना के कार्यक्रम

मंदिर के कपाट खुलने का समय प्रात: 4:00 बजे

कांकड़ आरती प्रात: 4:30 बजे

मंगल स्नान प्रात: 5:00 बजे
छोटी आरती प्रात: 5:40 बजे

दर्शन प्रारम्भ प्रात: 6:00 बजे
अभिषेक प्रात: 9:00 बजे
मध्यान आरती दोपहर: 12:00 बजे
धूप आरती साँयकाल: 7:00 बजे
शेज आरती रात्री काल: 10:30 बजे

************************************

निर्देशित आरतियों के समय से आधा घंटा पह्ले से ले कर आधा घंटा बाद तक दर्शनों की कतारे रोक ली जाती है। यदि आप दर्शनों के लिये जा रहे है तो इन समयों को ध्यान में रखें।

************************************

Saturday, 21 January 2012

चले साईं के देस

ॐ साईं राम
 हम मतवाले हैं
चले साईं के देस
यहाँ सभी को चैन मिलेगा
कभी न लागे ठेस
फूल-सी धरती बनती जाए
एक पिघलता लावा
पहन रही पगली दुनिया
अग्नि का पहरावा
जाने अभी ये बन्दे तेरे
बदले कितने भेस 
हम मतवाले हैं ........

Friday, 20 January 2012

साईं बाबा की पालकी चली

ॐ साईं राम


 साईं  बाबा  की  पालकी  चली
कष्ट  भक्तों  के  टालती  चली
पालकी  पे  सवार, पहने  फूलों  के  हार
क्या  सुन्दर  लगे  मखमली

Thursday, 19 January 2012

आपका शुक्रिया है .... आपका शुक्रिया है

ॐ साईं राम
 आपसे  क्या  कहूँ  देवा,

आपसे  क्या  मिला  है,


मुझे  जीवन  दान,


माँ  का  प्यार  बाबा ,


सब  आपसे  ही  मिला  है,


आपका  शुक्रिया  है  ......आपका  शुक्रिया  है .....

आओ साईं - Remembering Megha - A Great Devotee of Baba

Dear Sai Devotees,

OM SRI SAI RAM to all...

Time to remember MEGHA, a great devotee of Baba. All Sai Devotees know  about Megha and how he was fully devoted to Baba and how much Baba loved him in return.

श्री साई सच्चरित्र Chapter 41

ॐ सांई राम

आप सभी को शिर्डी के साईं बाबा ग्रुप की और से साईं-वार की हार्दिक शुभ कामनाएं , हम प्रत्येक साईं-वार के दिन आप के समक्ष बाबा जी की जीवनी पर आधारित श्री साईं सच्चित्र का एक अध्याय प्रस्तुत करने के लिए श्री साईं जी से अनुमति चाहते है , हमें आशा है की हमारा यह कदम घर घर तक श्री साईं सच्चित्र का सन्देश पंहुचा कर हमें सुख और शान्ति का अनुभव करवाएगा, किसी भी प्रकार की त्रुटी के लिए हम सर्वप्रथम श्री साईं चरणों में क्षमा याचना करते है...

श्री साई सच्चरित्र - अध्याय 41 - चित्र की कथा, चिंदियों की चोरी और ज्ञानेश्वरी के पठन की कथा ।

Wednesday, 18 January 2012

अरे शिर्डी वालों , साईं से कह दो

ॐ सांई राम
अरे शिर्डी वालों , साईं से कह दो
कि मंदिर में उसके, गरीब आ गया है

SHIRDI SAIBABA TEACHES FAITH AND PATIENCE

Om Sai Ram to all....

Shri Sai Baba of Shirdi descended on the earth tolead man kind to the realm of eternity. As the divine mother He gave his immense love and as the divine father He gave direction to our search for truth.  His mission was to make people conscious of their divine nature. The people who follow His teachings and preaching are indeed blessed souls. The cardinal principles of Sai Path are 'Shraddha' and 'Saburi'.  Sai Baba explicitly asked for these twoqualities in His devotees by giving his self-experiential instance thathis 'Murshid' or Master asked from him only two pice - one Shraddha and other the Saburi.

Tuesday, 17 January 2012

तेरा बनाया इन्सान हूँ साईं क्यों ये भूल गया

ॐ सांई राम

साईं तेरे बिन सूना है जीवन

सेवा में तेरी बीते ये जीवन

Sai Baba ji's original pic


Monday, 16 January 2012

बस तेरी शरण चाहिए बंदगी के लिए

ॐ सांई राम

ज्योति की ज़रूरत है जैसे
नैनों के लिए
बस तेरा रहम चाहिए
बंदगी के लिए

For Donation

For donation of Fund/ Food/ Clothes (New/ Used), for needy people specially leprosy patients' society and for the marriage of orphan girls, as they are totally depended on us.

For Donations, Our bank Details are as follows :

A/c - Title -Shirdi Ke Sai Baba Group

A/c. No - 200003513754 / IFSC - INDB0000036

IndusInd Bank Ltd, N - 10 / 11, Sec - 18, Noida - 201301,

Gautam Budh Nagar, Uttar Pradesh. INDIA.